Widget Recent Post No.

विश्व नेत्रदान दिवस पर जानियें, आँखों को सही रखने के उपाय।World Eye Donation Day

विश्व नेत्रदान दिवस पर जानियें, आँखों को सही रखने के उपाय

World Eye Donation day

 विश्व नेत्रदान दिवस के बारे मे।


नेत्रदान के महत्व को देखते हुए हर साल 10 जून को विश्व नेत्रदान दिवस (Eye Donation Day) मनाया जाता हैं। इस दिन नेत्रदान करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता हैं। नेत्रदान करना महादान करने जैसा होता हैं। लोग धन, अन्न, विद्या, श्रम, रक्तदान, आदि का दान तो करते ही हैं लेकिन लोगों को मरने से पहले नेत्रदान करने का भी संकल्प लेना चाहिए। ताकि जो व्यक्ति नेत्रहिन हैं उन्हें एक नई रोशनी मिल सकें।


विश्व नेत्रदान का उद्देश्य

जीवन में आँखों का क्या महत्व होता हैं। इसके महत्व को व्यापक पैमाने पर समझाने और जनता को जागरूक करने के लिए विश्व Eye Donation Day  मनाया जाता हैं और लोगों के मरने के बाद अपनी आखें दान करने की शपथ लेने के लिए प्रेरित करना भी इसका उद्देश्य हैं।
जो व्यक्ति नेत्रहीन हैं या किसी कारणवश उनकी आखों की रोशनी चली गई हैं। वो किसी तरह इस खूबसूरत दुनिया को देख सकें। इसलिए लोगों को मरनें से पहले आखें दान करने के लिए जागरूक किया जाता हैं।


आँखों की संरचना

All about eyes in hindi


आँख जीव जंतुओं और मानव के शरीर का आवश्यक अंग होता हैं। आँख या नेत्र जीवधारियों का वह अंग है जो प्रकाश के प्रति संवेदनशील है। हमारे नेत्र का काला गोल हिस्सा 'कार्निया' कहलाता है। यह आँख का एक पर्दा है जो बाहरी वस्तुओं का चित्र बनाकर हमें दृष्टि प्राप्त करता है। दृष्टि एक जटिल प्रक्रिया है, जिसमें प्रकाश किरणों के प्रति संवेदिता, स्वरूप, दूरी, रंग आदि सभी का प्रत्यक्ष ज्ञान समाहित है। आँखें अत्यंत जटिल ज्ञानेन्द्रियाँ हैं, जो दायीं-बायीं दोनों ओर एक-एक नेत्र कोटरीय गुहा में स्थित रहती है। ये लगभग गोलाकार होती हैं और इनका व्यास लगभग एक इंच (2.5 सेंटीमीटर) होता है।


आँखों का हमारें जीवन में महत्व।

Importance of eyes in our life।


आँखों और दृष्टि का हमारें जीवन में बहुत बड़ा महत्व है। यदि व्यक्ति के जीवन में दृष्टि न हो तो उसके जीने का कोई मतलब ही नहीं होता और उसे प्रत्येक कार्य के लिए दूसरों पर निर्भर रहना पड़ता है। ऐसे तो सभी आंखों के महत्व को समझते हैं और इसीलिए इसकी सुरक्षा भी सभी बड़े पैमाने पर करते हैं। हममें से कुछ लोग ऐसे भी हैं जो दूसरों के बारे में भी सोचते हैं। आंखें ना सिर्फ हमें रोशनी दे सकती हैं बल्कि हमारे मरने के बाद वह किसी और की जिंदगी में उजाला भी भर सकती हैं।
लेकिन कुछ लोग अंधविश्वास के कारण Eye Donation नहीं करते। उनका मानना हैं कि अगले जन्म में वे नेत्रहीन ना पैदा हो जाएं। इस अंधविश्वास की वजह से दुनियां के कई नेत्रहीन लोगों को जिंदगी भर अंधेरे में ही रहना पड़ता है। सभी लोगों को इस बात को समझना होगा और नेत्रदान अवश्य करना चाहिए। हमारा एक सही फैसला लोगों के जिंदगी में उजाला ला सकता हैं।


आँखों की देखभाल करने के उपाय।


आँखों को सुरक्षित रखने में आंवले का इस्तेमाल करना बेहद फायदेमंद हैं।
नियमित रूप से नेत्रचिकित्सक से आँखों की जांच करवातें रहें।
नियमित रूप से व्यायाम करें।
अधिक से अधिक पानी पीयें और खूब सारी गाजर के साथ हरी सब्जियां खाएं।
चमकीले प्रकाश में सीधे कभी न देखें।
आँखें या चेहरा पोंछने के लिए कभी किसी और का रुमाल या तौलिया इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
ज़रूरत होने पर गॉगल्स अवश्य पहनें और हमेशा पर्याप्त नींद लें।
कंप्यूटर, टेबलेट, और फोन की स्क्रीन पर देखने के समय को सीमित करें।
आँखों के स्वास्थ्य को सही रखने में योगदान देने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करें।
आँखों के लिए खाद्य पदार्थों में मछली सबसे लाभकारी है। मछली के सेवन से आँखों की रोशनी तेज होती है।
बादाम या जैतून के तेल से आँखों के आस पास हल्के हल्के हाथों से मसाज करें, क्योंकि इससे रक्त संचार ठीक रहता है और आँखों की थकान भी कम होती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ